Happy Indenpendence Day SMS 2018

independence day 2018 quotes,independence day 2018 speech,independence day 2018 student speech,independence day 2018 72th

26 January Speech In Hindi

26 January Speech In Hindi

26 January Speech In Hindi – आज मै आपके साथ 26 January Speech in Hindi में शेयर करने जा रहा हूँ, जिसे आप अपने स्कूल या कॉलेज में 26 जनवरी पर भाषण के रूप में दे सकते हैं |

26 January Speech In Hindi

26 January Speech in Hindi

26 January Speech in Hindi

वंदेमातरम्, भारत माता की जय !!!

आदरणीय सभापति महोदय, इस पवित्र त्यौहार के मौके पर आपने मुझे अपने शब्दों को रखने का मौका प्रदान किया इसके लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद. गणतंत्र दिवस के शुभ अवसर पर इस प्रांगन में उपस्थित गणमान्य अथिति, गुरुजन और मेरे प्यारे सहपाठियों आप सभी को Guruji Tips (अपना नाम) की ओर से प्यार भरा नमस्कार!

 

जमाने भर में मिलते है आशिक कई, जमाने भर में मिलते है आशिक कई,
मगर मेरे वतन से खुबसूरत कोई सनम नही है.

Read More – Republic Day Speeches

26 January Speech in Hindi 

26 जनवरी हम सभी देशवाशियों के लिए बहुत ही पवित्र पर्व है जो हमें याद दिलाता है कि हम सब विश्व के सबसे बड़े प्रजातंत्र देश के नागरिक हैं और स्वतंत्र हैं. गणतंत्र अथवा प्रजातंत्र का मतलब “जिसमें राजकीय सुविधाओं के लिए सब सामान है.” हम सब स्वतंत्र रहना चाहते हैं, प्रजातंत्र चाहते हैं. लेकिन यह प्रजातंत्र और स्वतंत्रता बहुत ही कठिन परिश्रम के बाद मिला है.

भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों की कई वर्षों के संघर्ष, कड़ी मेहनत और कई जीवन न्योछावर करने के बाद भारत को 15 अगस्त 1947 को आज़ादी मिली. स्वतंत्रता के ढाई वर्ष बाद भारत सरकार ने स्वयं का संविधान लागु किया और भारत को एक प्रजातांत्रिक गणतंत्र घोषित किया.

2 वर्ष, 11 महीने और 18 दिन में कुल 114 दिन बैठक के बाद भारतीय संविधान तैयार किया गया. जिसे 26 जनवरी 1950 में संविधान सभा में पास किया गया और इसी दिन से हम प्रतिवर्ष 26 जनवरी को भारतीय गणतंत्र दिवस के रूप में मनाने लगे. आज हम सभी भारतवाशी 69वां गणतंत्र दिवस मना रहे हैं.

26 January Speech In Hindi

आओ मिल कर तिरंगा लहराये, आओ तिरंगा फहराये
अपना गणतंत्र दिवस है आया, झूमे, नाचे, खुशी मनाये।
अपना 69वाँ गणतंत्र दिवस खुशी से मनायेगे
देश पर कुर्बान हुये शहीदों पर श्रद्धा सुमन चढ़ायेंगे।
26 जनवरी 1950 को अपना गणतंत्र लागू हुआ था,

भारत के पहले राष्ट्रपति, डॉ. राजेन्द्र प्रसाद ने झंड़ा फहराया था,
मुख्य अतिथि के रुप में सुकारनो को बुलाया था,
थे जो इंडोनेशियन राष्ट्रपति, भारत के भी थे हितैषी,
था वो ऐतिहासिक पल हमारा, जिससे गौरवान्वित था भारत सारा।
विश्व के सबसे बड़े संविधान का खिताब हमने पाया है,
पूरे विश्व में लोकतंत्र का डंका हमने बजाया है।
इसमें बताये नियमों को अपने जीवन में अपनाये,
थाम एक दूसरे का हाथ आगे-आगे कदम बढ़ाये,
आओ तिरंगा लहराये, आओ तिरंगा फहराये,
अपना गणतंत्र दिवस है आया, झूमे, नाचे, खुशी मनाये|

26 January Speech In Hindi

26 January Speech in Hindi

26 January Speech in Hindi

हम सभी गर्व से कहते है की हम भारत के नागरिक हैं. 26 जनवरी को हर साल भारत में गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है. 26 जनवरी 1950 को देश का सविधान लागू हुआ था. इस दिन भारत एक लोकतांत्रिक गणराज्य बन गया था. पूरे देश में गणतंत्र दिवस के अवसर पर समारोह आयोजित किये जाते है.15 अगस्त 1947 को हमारा देश ब्रिटिश हुकूमत से आज़ाद हुआ था. इस दिन देश में आज़ादी का जश्न मनाया जाता है. आज़ादी मिलने के बाद देश का सविधान लागू होने पर 26 जनवरी को हमारा देश गणतंत्र देश बन गया था इसलिए हर साल गणतंत्र दिवस के रूप में इस दिन को धूमधाम से मनाते हैं।

26 January Speech in Hindi 

2018 में हम भारत के 69 वें गणतंत्र दिवस का जश्न मना रहे हैं.गणतंत्र का मतलब देश में रहने वाले लोग ही सर्वोच्च शक्ति है. जनता को देश का नेतृत्व करने के लिए अपने राजनीतिक नेता के रूप में प्रतिनिधि चुनने का अधिकार है इसलिए भारत एक गणतंत्र देश है. जहां जनता को  अपने नेताओं से लेकर राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री तक चुनने का हक दिया गया है. भारत के महान भारतीय स्वतंत्रता सेनानियों ने भारत में “पूर्ण स्वराज” के लिए बहुत संघर्ष किया है.

उन्होंने ऐसा कार्य किया की उनकी अगली पीढ़ी देश के विकास को आगे बढ़ा सकें.भारत के पहले राष्ट्रपति डॉ राजेंद्र प्रसाद का कहना था कि, “हम इस पूरे देश को एक संविधान और एक संघ के अधिकार क्षेत्र के अंतगर्त लाए हैं जो 320 मिलियन से अधिक पुरुषों और महिलाओं के कल्याण की ज़िम्मेदारी लेते हैं “।

यह कहने में शर्म की बात है कि हम अब भी हमारे देश में अपराध, भ्रष्टाचार और आतंकवाद जो हमारे लिए ही नहीं पूरी दुनिया के लिए सबसे बड़ा संकट है. देश की प्रगति के लिए इस समस्याओं को हल करने की आवश्यकता है.

डॉ. एपीजे कलाम ने कहा है कि “यदि देश भ्रष्टाचार मुक्त है और एक सुंदर राष्ट्र बन गया है, तो मुझे दृढ़ता से लगता है की तीन महत्वपूर्ण सदस्य हैं जो समाज में अंतर पैदा कर सकते हैं, वो पिता, माता और शिक्षक हैं. ” देश के नागरिक के रूप में हमें इसके बारे में गंभीरता से सोचना होगा और हमारे देश के विकास के लिए हर संभव प्रयास करना होगा.

गणतंत्र दिवस पर निबंध भाषण in Hindi: Republic Day Essay And 26 January Speech In Hindi

26 January Speech In Hindi

26 January Speech In Hindi

ये रहा BEST गणतंत्र दिवस पर भाषण, निबंध, 26 January speech for teachers & students. 26 जनवरी 2018 पर शायरी | जानिए गणतंत्र क्या है, गणतंत्र दिवस क्यूँ मनाया जाता है ओर इसका क्या महत्व है|

हमारा देश भारत में 26 जनवरी की तिथि एक महत्वपूर्ण दिन है| हम भारतीयों इस दिन को बहोत ही गर्व के साथ मनाते हें| स्कूल की बच्चों से लेकर देश की सेना की जवानों तक, हर कोई इसी दिन अपने देश के संविधान के लागू होने के कारण बेहद गर्व महसूस करते हें|

Read More – Republic day Speech In english

26 January Speech in Hindi

आइए जानते हें की 26 जनवरी क्यूँ मनाया जाता है और इससे जुड़े कुछ जाने अनजाने तथ्य|

हमने यहाँ निचे 26 जनवरी पर हिंदी पर भाषण व निबंध पेश की है जो की स्कूल के बच्चों के लिए निबंध या भाषण के रूप में काफी मददगार हो सकता है| बच्चे 26 जनवरी पर भाषण व निबंध यहाँ से ज्यों का त्यों लिख सकते हें|

गणतंत्र दिवस पर भाषण व निबंध इन हिंदी: 26 January 2019 Speech for School Teachers & Students

हमारा देश भारत त्योहारों और पर्वों के लिए समग्र विश्व में काफी प्रसिद्द है| उन्ही त्योहारों और पर्वों की सूचि में से 26 जनवरी की तिथि पूरा देश के लिए काफी अहम् है| 26 जनवरी को हमारे देश के हर वर्ग के लोग बड़े ही उत्साह और आदर के साथ मानते हें| इस दिन कोई भेद भाव उंच नीच की ख़याल के बिना हर कोई अपने देश की संस्कृति और आज़ादी के लम्हों के बारे में सोचता है|

26 जनवरी हर जात हर मस्हब के लोगों के लिए एक सामान है| ये दिन हमें अपनी देश की मंगल पांडे जैसे वीर शहीदों की कुर्बानी की याद दिलाता है|

देश भक्ति के माध्यम से ही नहीं, 26 January सांस्कृतिक नज़रिये से भी बहुत महत्व रखता है| राजधानी दिल्ली में देश भक्तो ओर देश के सेना के द्वारा बहुत धूम धाम से झांकिया के साथ गणतंत्र दिवस पालन होता है|

चाहे जितना भी व्यस्त जीवन हो, साल मे एक बार हर कोई गणतंत्र दिवस पर देश की स्मरण करता है and देश भक्ति में लोटपोट होता है| हमें ये प्रण लेना है की 26 January की इस भावना को केवल एक दिन ही नहीं बल्कि सालों साल अमर रखना है|

मात्रभूमि ने हमे बहुत कुछ दिया है अब वक़्त हमारा है भारत माता को अपनी सम्मान और देश के नागरिक को उनका अधिकार दें| देश के जवान अपने प्राण की दाव लगाकर देश की सेवा कर रहे हैं, हमे देश की अंदरूनी देखभाल करनी है| ये कर सकते हैं हम देश की नारी का सम्मान रक्षा करके|

ये कर सकते हैं हम अपने माध्यम में दहेज़ प्रथा जैसे कुरीति को मार कर, ये कर सकते हैं हम बेटी बचाओ बेटी पढाओ को आगे लाकर, और कन्या भ्रूण हत्या को रोक कर| हमें खुद को ओर दुसरो को बताना होगा की लड़का लड़की एक सामान हैं|

 

हमें अपने परिवेश की भी साफ़ सफाई, और उन्नति का ध्यान रखना है| अपने देश ओर सहकर्मी और सहपाठियों को शिक्षित कर Digial India के व्यवहार ओर महत्व को बताना है| तभी हम ओर हमारा भारत देश उन्नत होगा, खुशाल होगा|

 

में आशा करता हूँ की 26 जनवरी पर मेरा ये भाषण (निबंध) आप सभी में देशभक्ति की नयी उत्साह लायेगा| तभी मेरा ये गणतंत्र दिवस पर भाषण सफल होगा|

गणतंत्र दिवस क्यूँ मनाया जाता है? Why is 26th January 2018 Celebrated in India?

हमारे देश में 26 जनवरी की उत्सव अपने देश की इतिहास की याद में मनाया जाता है| 26 जनवरी के दिन भारत की संविधान की लागू हुई थी| भारत को अंग्रेज़ों से पूर्ण मुक्ति या कहें स्वराज दिलाने के लिए लाहौर में रवि नदी के किनारे भारत की क्रांतिकारियों ने सन 1930 को प्रतिज्ञा की थी| ये प्रतिज्ञान 15 अगस्त 1947 को साकार हुआ| इसी कारण 15 अगस्त की तिथि भी  की उत्सवों की सूचि में गिना जाता है|

हमारे देश में 26 जनवरी को एक उत्सव के रूप में 26 जनवरी 1950 से माना जा रहा है| इसी दिन भारत को अपनी संविधान हासिल हुआ था|

26 जनवरी को भारत में रिपब्लिक डे के नाम से माना जाता है| इस दिन की याद में सरकार ने इस दिन को एक जातीय दिवस के रूप में घोषणा की है|

26 January Speech in Hindi 

गणतंत्र क्या है? What is 26 January?

गणतंत्र वो है जिस देश में गण यानी जनता या नागरिकों का राज हो| गणतंत्र देश में प्रजा की राज होती है, जिसका मतलब है की यहाँ सत्ता देश की जनता चुनती है| भारत एक गणतंत्र देश है ओर यहाँ की सरकार के लिए भारतीय नागरिक अपने ही भीतर से किन्ही सदस्य को बहुमत से चुनाव के माध्यम से चुनती है|

सही हिसाब से भारत विश्व का सबसे बड़ा गणतंत्र देश है!

कैसे मनाई जाती है 26 जनवरी को? How is 26 January Celebrated in India?

समग्र भारत की देश वासियों के लिए 26 जनवरी एक गौरव की दिन माना जाता है| इस दिन देश की सभी सरकारी कार्यालयों को सरकार की तरफ से छुट्टी घोषणा किया जाता है| स्कूलों और काँलेजों में ये दिन छुट्टी के दिन माना जाता है|

लेकिन देश की हर सरकारी और निजी स्कूलों में इस दिन सभी स्कूलों के बच्चों को अपने देश की सम्मान करना सिखाया जाता है| इस दिन सभी बच्चे अपने अपने ढंग से देश को अपना सम्मान जताते हें|

जय हिंदी !

आशा करते हैं आपको हमारा यह 2019 पोस्ट गणतंत्र दिवस निबंध व भाषण 26 January Republic Day Essay Speech Hindi अच्छा लगा होगा। कमेंट के माष्यम से ज़रूर बताएं।

Read More- Short Speech On Republic day 

26 January Speech in Hindi 

 

गणतंत्र दिवस के 15 रोचक तथ्य

1. भारत में गणतंत्र दिवस प्रत्येक वर्ष 26 जनवरी को मनाया जाता है।
2. 1950 में 26 जनवरी को भारत में नया संविधान, भारत का संविधान लागू हुआ था।
3. भारत का संविधान एक लिखित संविधान है।
4. भारतीय संविधान को तैयार करने में सैकड़ों विद्वान जुटे। लिखित संविधान में कई बार संशोधन होने के बाद इसे अपनाने में 2 साल, 11 महीने और 18 दिन का समय लगा।
5. 26 जनवरी 1950 को डॉ. राजेन्द्र प्रसाद ने गवर्नमेंट हाउस के दरबार हाल में भारत के पहले राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली थी।
6. गणतंत्र दिवस भारत में मनाये जाने वाली तीन राष्ट्रीय छुट्टियों में से एक है।
7. इस दिन नई दिल्ली में विशेष परेड का आयोजन किया जाता है।
8. गणतंत्र दिवस के मौके पर अशोक चक्र और कीर्ति चक्र जैसे महत्वपूर्ण सम्मान दिए जाते हैं। इसके बाद सेना अपना शक्ति प्रदर्शन और परेड मार्च करती है।
9. इस दिन भारत के राष्ट्रपति परेड की सलामी लेते हैं।
10. राजपथ पर परेड का भव्य आयोजन होता है। भारतीय सेना की तीनों विंग इसमें हिस्सा लेती हैं।
11. गणतंत्र दिवस के मौके पर राजपथ पर तिरंगा फहराया जाता है। फिर राष्ट्र गान गाया जाता है और 21 तोपों की सलामी होती है।
12. देश के सभी राज्यों की राजधानियों में झंडा रोहण एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। सभी सरकारी, अर्द्ध-सरकारी, निगम एवं प्रशासनिक कार्यालयों में झंडा रोहण का कार्यक्रम होता है।
13. स्कूल एवं कालेजों में विभिन्न कार्यक्रम, खेल-कूद एवं प्रतियोगिताओं का आयोजन भी होता है तथा विजेताओं को सम्मानित किया जाता है।
14. 26 जनवरी 1965 को हिंदी को राष्ट्रभाषा घोषित किया गया था।
15. बहुत कम लोगों को पता है कि 1955 से पहले गणतंत्र दिवस समारोह राजपथ पर आयोजित नहीं होता था। 1954 तक गणतंत्र दिवस समारोह किंग्सवे, लाल किला और रामलीला मैदान में आयोजित किए गए।
16. 1955 से गणतंत्र दिवस समारोह राजपथ पर होने लग गया और यहां सेना परेड करने लग गई।

 Republic Day Speech In Hindi

 भारतीय संविधान की शुरुआत :-

संविधान सभा के 308 सदस्यों ने मिलकर 24 जनवरी 1950 में संविधान के दोनों हस्तलिखित कॉपियों पर हस्ताक्षर किए और इसके 2 दिन बाद मतलब 26 जनवरी 1950 के दिन भारतीय संविधान ( Indian Constitution ) को पूरे देश में लागू कर दिया गया। इससे पहले भारत में गवर्नमेंट ऑफ इंडिया एक्ट (1935) का नियम लागू था।

 

2. 26 जनवरी के दिन ही क्यों :-

भारतीय संविधान को 26 जनवरी के दिन इसीलिए लागू किया गया क्योंकि इसी दिन वर्ष 1930 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस(Indian National Congress) ने भारत को “पूर्ण स्वराज” घोषित किया था।

3. दुनिया का सबसे बड़ा लिखित संविधान :-

भारतीय संविधान 395 अनुच्छेद 22 अध्याय और 8 अनुसूचियों के साथ दुनिया में सबसे बड़ा लिखित संविधान है। भारतीय संविधान को पूरी तरह से हाथों से लिखा गया है जो हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में है। भारतीय संविधान के असली को कॉपी हीलियम से भरे बक्से में संसद भवन की लाइब्रेरी में रखा गया है।

 

4. कितना समय लगा :-

दुनिया के सबसे बड़े हस्तलिखित संविधान को तैयार होने में 2 साल 11 महीने और 18 दिन का समय लगा था और इस संविधान के रचयिता थे डॉक्टर भीमराव अंबेडकर।

 

5. गणतंत्र दिवस पर चुने गए देश के पहले राष्ट्रपति :-

26 जनवरी 1950 भारत के पहले गणतंत्र दिवस पर डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद ने भारत के पहले राष्ट्रपति के रूप में गवर्नमेंट हाउस पर शपथ ग्रहण की थी।

 

6. राजपथ पर होने वाले परेड की शुरुआत :-

अभी जो आप गणतंत्र दिवस की परेड राजपथ पर होते हुए देखते हो शुरुआती दौर में वहां नहीं होता था। वर्ष 1950 से लेकर 1954 तक गणतंत्र दिवस की परेड के लिए कोई जगह तये नहीं था। कभी यह रामलीला मैदान में तो कभी लाल किले में हुआ करता था। फिर वर्ष 1955 से गणतंत्र दिवस की परेड के लिए दिल्ली के राजपथ को मुकर्रर किया गया और तब से लेकर आज तक वही पर गणतंत्र दिवस की परेड हो रहा है।

 

 Republic day Speech In Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Happy Indenpendence Day SMS 2018 © 2018 Frontier Theme