Republic Day Speech For Students 2019

Republic Day Speech For Students 2019

Republic Day Speech For Students 2019 – On Republic Day students speak speech before an audience in Hindi or English language. Because on this day schools & college students celebrate this festival. They Gave Republic Day Speech 2019.

Here is the huge collection Republic Day Speech For Students. Read and speak them.

Republic Day Speech For Students 2019

Republic Day Speech For Students 2019

Speech 1

“First of all, I would like to greet our respected Principal, our respected teachers, and my fellow classmates with a very good morning. We are gathered here to celebrate an auspicious occasion of our nation, the 69th Republic Day. I’d like to take this opportunity to greet all of you a very Happy Republic Day. I’m delighted to have the privilege to share a glimpse of the history of the Republic day of our glorious nation.

 

On 26 January 1950, the new Constitution Of India came into effect and India became a republic nation. A democratic republic nation, which was not ruled by any hereditary King or Queen, and the government elected by the common people of the country. The constitution also encouraged all citizens to have equal social and economic rights.

So let’s gather together on this joyous and momentous day, and take an oath to always maintain the sovereignty, which our country has achieved with priceless sacrifices and promise ourselves to make our nation celebrated through the world. With these humble words, I bow my head to the flag, and to every one of you I say Jai Hind, Jai Bharat”.

Read More- Desh Bhakti Shayari

Speech 2: Why it is important to be the republic

“A very good morning to our respected Principal Sir/Madam, respected teachers, and all of my classmates. First of all, I would like to thanks my class-teacher who gave me this opportunity to recite some of my thoughts on the 70th Republic Day of India. The Republic day is one of the most patriotic days for all the Indian citizens since on this day India was declared secular, sovereign and a democratic country. But what does republic actually mean? Republic Day Speech For Students 2019

 

But why it is important that a country should be a republic? It matters because it impacts the political culture, helps in balancing the power among government, parliament and the ordinary people. Ordinary citizens would be able to participate in the process of choosing the head of states and the country.

Republic Day Speech For Students 2019

Friends, 26 January is also known as Republic Day of India which is celebrated by the people in every year with great joy and enthusiasm. It is celebrated by all Indian people and it has great importance for every single Indian, India became the Sovereign Democratic Republic which was declared after the enforcement of Constitution of India in 1950 on 26th of January. Republic Day is celebrated by peoples to enjoy and remember the great historic Independence victory of India from the British Rule. 26th of January has been declared as the gazetted holiday into the country by the Government of India. Republic Day is celebrated by the students and Kids all over India by getting participated in the Singing National songs, Dancing and also some more events which are organized in schools, colleges, universities, and other educational institutions.

The Government of India every year organizes an event in the National capital New Delhi, where our Indian soldiers show parade in front of the India Gate. People started to visit at the Raj Path in the early morning to see the various activities which are done by all soldiers of India. Republic Day parade start form the Vijay Chowk by displaying various arms, weapons, tanks, big guns and etc

 

Republic Day Speech For Students 2019

गणतंत्र दिवस पर निबंध | Speech on Republic Day in Hindi!

Read More- 26 January image

गणतंत्र दिवस भारत का राष्ट्रीय पर्व है । यह दिवस भारत के गणतंत्र बनने की खुशी में मनाया जाता है । 26 जनवरी, 1950 के दिन भारत को एक गणतांत्रिक राष्ट्र घोषित किया गया था । इसी दिन स्वतंत्र भारत का नया संविधान अपनाकर नए युग का सूत्रपात किया गया था । यह भारतीय जनता के लिए स्वाभिमान का दिन था । संविधान के अनुसार डॉ. राजेन्द्र प्रसाद स्वतंत्र भारत के प्रथम राष्ट्रपति बने । जनता ने देश भर में खुशियाँ मनाई । तब से 26 जनवरी को हर वर्ष गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता रहा है ।

26 जनवरी का दिन भारत के लिए गौरवमय दिन है । इस दिन देश भर में विशेष कार्यक्रम होते हैं । विद्‌यालयों, कार्यालयों तथा सभी प्रमुख स्थानों में राष्ट्रीय झंडा तिरंगा फहराने का कार्यक्रम होता है । बच्चे इनमें उत्साह से भाग लेते हैं । लोग एक-दूसरे को बधाई देते हैं । स्कूली बच्चे जिला मुख्यालयों, प्रांतों की राजधानियों तथा देश की राजधानी के परेड में भाग लेते हैं । विभिन्न स्थानों में सांस्कृतिक गतिविधियाँ होती हैं । लोकनृत्य, लोकगीत, राष्ट्रीय गीत तथा विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम होते हैं । देशवासी देश की प्रगति का मूल्यांकन करते हैं ।

हमें अपने देश को अपना परिवार मानना होगा और पुरे जिम्मेदारी से इसकी आंन और शान की रक्षा करना होगा|

तोह आइए हम और आप मिल कर हमारे देश भारत की गर्व को बनाये रखने की कसम खाते हें और सच्चा देश भक्त बन्ने की मुहीम में जूट जाते हें|

हमें निचे कमेंट बॉक्स में ये जरुर बताएं की आपको हमारे इस गणतंत्र दिवस पर निबंध व भाषण कैसे लगा| साथ ही हमारे इस आर्टिकल को अपने दोस्तों और नजदीकियों से जरुर शेयर करें ताकि हमें अपने इस नेक ख़याल को हर देश वासी तक पहुंचाने में मदद होगी|

हमें ये जरुर बताएं की आप अपने देश के लिए किस रूप से मददगार बनना पसंद करेंगे| आप की अमूल्य अनगिनत कमेंट्स और प्यार हमें ऐसी ही आर्टिकल्स लिखने के लिए काफी प्रोत्साहित करता है|

धन्यवाद!

जय हिन्द!

Republic Day Speech For Students 2019

Read More- 26 January Speech in HindiFor Teacher

Republic Day Speech For Students 2019

Republic Day Speech For Students 2019

Republic Day Speech For Students 2019

गणतन्त्र का अर्थ- गणतन्त्र का अर्थ है सामुदायिक व्यवस्था। भारत में ऐसे शासन की स्थापना हुई जिसमें देश के विभिन्न दलों, वर्गों एवं जातियों के प्रतिनिधि मिलकर शासन चलाते हैं। इसलिए भारत की शासन पद्धति को गणतन्त्र की संज्ञा दी गई और इस दिन को गणतन्त्र दिवस के नाम से सुशोभित किया।

26 जनवरी का महत्त्व- 26 जनवरी के दिन आजादी को कायम रखने के लिए देशवासी प्रतिज्ञा करते हैं। वे देश के निर्माण एवं उत्थान के लिए कृत-संकल्प होते हैं। यह राष्ट्रीय पर्व देश के निवासियों में नया उत्साह, नया बल, नई प्रेरणा और नई सफूर्ति भरता है। देश-. भबन शहीदों को श्रद्धांजलियां अर्पित की जाती है। 26 जनवरी के दिन राष्ट्रपति भवन में विशेष कार्यक्रम हो है। वे देश के सैनिकों, साहित्यकारों, कलाकारों आदि को उनकी उपलब्धियों पर अनेक प्रकार के पदक प्रदान करते है।

उपसंहार- स्वतन्त्रता प्राप्ति के पश्चात् भी देश ने अभी तक भरपूर उन्नति नहीं को। इसका कारण भ्रष्टाचार, साम्प्रदायिकता, भाषा- भेद, जातिवाद एवं संकीर्ण दृष्टिकोण हैं। हमें चाहिए कि हम इन दोषों को त्याग कर देश-कल्याण के कार्यों में लीन हो जाएं। तभी हमारे देश में वैभव का साम्राज्य स्थापित हो सकता है।Republic Day Speech For Students 2019

 

Republic Day Speech for students in Hindi

गणतंत्र का अर्थ है कि देश में रहने वाले हर एक इंसान के पास सर्वोच्च शाक्ति यानि की सबसे बड़ी शाक्ति होती है जो अपने देश के लिए सही दिशा में देश का विकास करने वाला राजनितिक नेता चुनने का अधिकार है।जो जनता के सुख- दुख को समझते हुए देश की कमान संभाल सके। इसलिए भारत एक गणतंत्र देश है। यहां की जनता ने अपना नेता प्रधानमंत्री के रूप में चुना है। स्वतंत्रता के ढाई वर्ष के बाद भारत सरकार ने स्वयं का संविधान लागु किया और भारत को एक प्रजातांत्रिक गणतंत्र घोषित किया। लगभग 2 वर्ष, 11 महीने और 18 दिन के बाद 26 जनवरी 1950 को भारत के संविधान को भारत की संविधान सभा में पास किया गया। इस घोषणा के बाद से इस दिन को प्रतिवर्ष भारतीय लोग गणतंत्र दिवस के रूप में मनाने लगे।

एक और खास बात यह है कि भारत देश में पूर्ण स्वराज्य हमें इतनी आसानी से प्राप्त नही हुआ है।  इस आजादी के लिए हमारे देश के कई बड़े सेनानियो नें अपने प्राणों की आहुति दी है। तो कईयों ने अपनी जिंदगी में घोर कष्टों का सामना किया। और उन महान वीरों ने इतना संर्घष इसलिए किया है ताकि उनकी आगे की आने वाली पीढ़ी अपनी जिंदगी सुखी से व्यतीत कर सके। और देश को एक उज्जवल भविष्य प्रदान कर सके।

Republic Day Speech For Students 2019

मैं इसका हनुमान हूँ,
ये देश मेरा राम है,
छाती चीर के देख लो,
अन्दर बैठा हिन्दुस्तान है.

पूर्व राष्ट्रपति डॉ. ए. पी. जे अब्दुल कलाम जी ने कहा था कि अगर देश को भ्रष्टाचार मुक्त, महान और अच्छे ज्ञान वाले लोगों का बनाना है तो सोसाइटी से जुडी तीन चीजें माता, पिता, और शिक्षक को भ्रष्टाचार मुक्त, महान और अच्छे ज्ञान वाला बनना होगा.

इस संविधान में सर्वोच्च संवैधानिक सत्ता के रूप में राष्ट्रपति का पद भी बनाया गया जो स्वतंत्र भारत के संविधान के अनुसार भारत का सर्वोच्च शासक बना और संविधान में भारत को सर्वप्रभुतासपन्न लोकतंत्रात्मक गणराज्य भी घोषित किया गया. इस प्रकार की शासन व्यवस्था से भारत संसार का सबसे बड़ा स्वतंत्र गणतंत्र राज्य बन गया.

इस समारोह में एकत्रित हो ‘गणतंत्र दिवस’ मनाने का एकमात्र उद्देश्य देश के नागरिकों की स्वतंत्रता को सदैव बनाए रखने की प्रेरणा देना है ताकि देश में विभिन्नताओं में एकता, सहयोग, भाईचारे की भावना में वृद्धि हो सके. यह राष्ट्रीय पर्व हम सब को राष्ट्रीय स्वतंत्रता प्राप्ति आंदोलन में किए गए संघर्षों और बलिदानों की भी याद दिलाता है साथ ही स्वतंत्रता बनाए रखने की प्रेरणा देता है. यह दिवस हमारी राष्ट्रीय चेतना का प्रतीक है.

आपलोगों से कहने को तो अभी बहुत कुछ है लेकिन समय की सीमा को देखते हुए मुझे अपने शब्दों को विराम देना होगा.

इतनी सी बात हवाओं को बताएं रखना,

रौशनी होगी चिरागों को जलाएं रखना,

हलू देकर पाया जिसे हमने, लहू देकर पाया जिसे हमने,

ऐसे तिरंगे को सदा अपनी आँखों में बसाये रखना.Republic Day Speech For Students 2019

 

Republic Day Speech in Hindi for teachers

1955 तक, कोई निश्चित स्थान नहीं था और यह केवल उसी साल पोस्ट किया गया था कि गणतंत्र दिवस को राजपथ में मनाया जाता था। चूंकि भारत एक गणतंत्र बन गया है, वहां लोगों को मुख्य अतिथि के नाम से आमंत्रित किया गया है और जो भारत के राष्ट्रपति के साथ हैं

देश ऐसी बड़ी आबादी के साथ सुशोभित किया गया है जो अंत से मिलने का प्रयास कर रहा है और अंतरराष्ट्रीय बाजार में जगह बनाने के लिए आखिर तक लड़ी है। देश की आगामी और कभी-बढ़ती बढ़ती हालत जहां जीडीपी बेहतर है, डॉलर के मुकाबले कीमत कम हो गई है, अपराधों में काफी कमी, बढ़ते आईटी कारखाने, रिवर्स ब्रेन ड्रेन, गुप्त कार्रवाई के कारण देश में वापस लौट रहे लोग देश की हमारी रक्षा के द्वारा यह सुनिश्चित किया गया कि हम रात के समय आराम से हमारे आराम से सोते हैं। 1 951 से 2018 तक, देश अब 1.3 बिलियन लोगों का समर्थन कर रहा है, क्योंकि गणतंत्र भारत के समय 360 मिलियन लोगों की आबादी का विरोध किया गया था।

Republic Day Speech in Hindi for students

देश की यात्रा शांति में पूरी तरह से नहीं रही है और जिसे आप इसे कई बार दर्दनाक कह सकते हैं लेकिन कभी-कभी यह आनंददायक है। लेकिन जब हम व्यावहारिकता में एक आदर्श बढ़ती हुई ग्राफ़ को देखते हैं, और कुछ उछाल मारने पर कहानी कितनी उबाऊ होगी। लेकिन आने वाले और बाद में पीढ़ियों की इच्छा और जुनून, मुख्य कारक हैं, जिसने देश को आज तक पहुंचने में मदद की है, जहां आज है। भारत सिर्फ लोकतांत्रिक देश नहीं है, परन्तु एक देश जहां इंटेलिजेंस और कुछ चीजें जो मात्रा में ज्यादा होती हैं और एक असली फर्क, जुनून बनाने के लिए आवश्यक हैं।

वर्ष 2017 में 7.2 की बढ़ोतरी करने वाली बेहतर अर्थव्यवस्था ने अंतरराष्ट्रीय बाजार की वस्तुओं के साथ बेहतर प्रतिस्पर्धा में भारतीय वस्तुओं के शेयरों की कीमतें खरीदी हैं। व्युत्पत्ति, जिसके परिणामस्वरूप अस्थायी असफलता ने अर्थव्यवस्था की पारदर्शिता को बढ़ावा दिया है

 

गणतंत्र दिवस पर भाषण 5

Republic Day Speech For Students 2019

मान्यवर अतिथिगण, प्रधानाचार्य, अध्यापक, अध्यापिकाएं, मेरे सीनियर और मेरे सहपाठी, सुबह की नमस्ते। मेरा नाम…….। मैं कक्षा….में पढ़ती/पढ़ता हूँ। अपने इस महान उत्सव गणतंत्र दिवस पर भाषण देना मेरे लिये बहुत सौभाग्य की बात है। सबसे पहले, मैं अपने कक्षा अध्यापक को इस महान भारतीय गणतंत्र दिवस के अवसर पर मुझे बोलने का मौका देने के लिये हार्दिक अभिनंदन करती/करता हूँ। मेरे प्रिय साथियों, हम आज यहाँ अपने राष्ट्र का सबसे विशेष उत्सव मनाने के लिये एकत्र हुये हैं। हम प्रति वर्ष 26 जनवरी को भारतीय संविधान के लागू होने और भारत को एक गणतंत्र देश के रुप में घोषित होने के कारण गणतंत्र दिवस मनाते हैं।

मुझे भारत का नागरिक होने पर बहुत गर्व है। इस दिन पर, हम अपने गणतंत्र देश के लिये दिल से सम्मान प्रदर्शित करने के लिये भारत के राष्ट्रीय ध्वज को फहराते और राष्ट्रीय गान गाते हैं। ये पूरे देश में स्कूलों, कॉलेजों, विश्वविद्यालयों, शैक्षिण संस्थाओं, बैंको और भी बहुत से स्थानों पर मनाया जाता है। 26 जनवरी, 1950 को भारतीय संविधान लागू हुआ था। 1947 से 1950 के बीच का समय परिवर्तन का समय था और किंग जार्ज प्रथम राज्य के प्रमुख वहीं लार्ड मांउटबेटेन और सी. राजगोपालचार्य जी भारत के गवर्नर बने थे।

भारत सरकार अधिनियम 1935 को भारतीय संविधान के 26 जनवरी 1950 के अस्तिस्व में आने के बाद भारत के सरकारी कागजातों के रुप में रख दिया था। 1949 में भारत के संविधान को संवैधानिक समिति द्वारा 26 नवम्बर को ग्रहण किया गया था हांलाकि इसे लोकतांत्रिक सरकारी प्रणाली के साथ बाद में 1950 को देश को एक पूरा तरह से स्वतंत्र गणराज्य के रुप में घोषित किया गया था। 26 जनवरी को विशेष रुप से इसलिये चुना गया क्योंकि इस समान दिन पर 1930 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने भारतीय स्वतंत्रता अर्थात् पूर्ण स्वराज्य घोषित किया था। 1950 में, संविधान को ग्रहण करने बाद, गणतंत्र भारत के पहले राष्ट्रपति, राजेन्द्र प्रसाद बने थे।      Republic Day Speech For Students 2019

भारतीय सेनाओं (सभी तीनों सेनाओं द्वारा) राष्ट्रीय राजधानी (नई दिल्ली) के साथ-साथ देश के राज्यों की राजधानियों में भी एक भव्य परेड का आयोजन किया जाता है। राष्ट्रीय राजधानी की परेड रायसीना हिल (राष्ट्रपति भवन के पास, भारतीय राष्ट्रपति का आधिकारिक निवास स्थान) से शुरु होकर और राजपथ से होते हुये पुराने इंडिया गेट पर समाप्त होती है। भारतीय सेना के साथ, देश के राज्य भी अपने देश की संस्कृति और परंपराओं को दिखाने के लिये परेड में भाग लेते हैं। इस दिन पर, हमारा देश, मुख्य अतिथि (किसी दूसरे देश के राजा, प्रधानमंत्री या राष्ट्रपति) को 26 जनवरी पर “अतिथि देवो भव” की परंपरा को निभाते हुये आमंत्रित करता है। भारत के राष्ट्रपति, भारतीय सेनाओं के कमांडर-इन-चीफ, भारतीय सेनाओं द्वारा सलामी लेते हैं। भारत के प्रधानमंत्री, अमर जवान ज्योति, इंडिया गेट पर शहीद हुये भारतीय सैनिकों को पुष्प अर्पित करके श्रद्धाजंलि देते हैं। गणतंत्र दिवस का उत्सव 29 जनवरी तक लगातार जारी रहता है जो बीटिंग रिट्रीट समारोह के साथ समाप्त होता है। इस दिन पर, प्रत्येक भारतीय संविधान के लिये अपनी/अपना सम्मान प्रदर्शित करते हैं।

जय हिन्द, जय भारत

Republic Day Speech For Students 2019


 

Read More – 26 January Speech In Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *